21 march International of Forests Day

 21 मार्च अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस


 21 मार्च, संयुक्त राष्ट्र का का अंतर्राष्ट्रीय (International Forests Day) वन दिवस है, जो हमारे जीवन में जंगलों (Forests) और पेड़ों के महत्व को बढ़ावा देता है. वर्ष 2019 की थीम 'वन और ऊर्जा' है. जंगलों का यह वैश्विक उत्सव सभी प्रकार के जंगलों (Forests) और पेड़ों के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक मंच प्रदान करता है, और उन तरीकों का जश्न मनाया जाता है जिसमें वे खुद को बनाए रखते हैं और हमारी रक्षा (Defence) करते हैं.


21 march International of Forests Day


इस वर्ष दरमियान हम, लोगों के जीवन में सुधार और परिवर्तन की और सतत विकास को शक्ति देना और जलवायु (Climate) परिवर्तन को कम करने में लकड़ी की ऊर्जा के महत्व को उजागर करते हैं.

वनों की संख्या में लगातार हो रही कमी के कारण वातावरण में प्रदूषण बढ़ता जा रहा है और कई प्रकार के श्‍वांंस संबंधी रोग भी उत्पन्न होते जा रहे हैं।

वन वायुमंडल में मौजूद कार्बनडाई ऑक्‍साइड (Carbon Dioxide) को ग्रहण करते है और हमारी जीवनदायनी ऑक्‍सीजन (Oxygen) को छोड़ते हैं।

पेड़ों - पोधों का हमारे दैनिक जीवन में होना बहुत ज्यादा महत्वपूण हैं, हमारे दैनिक मानव जीवन में प्रयोग होने वाली बहुत सी वस्तुएँ पेड़ों से ही प्राप्‍त होती हैं। इस लिए हमें पेड़ों की देखभाल करनी चाहिए और हमें रक्षा करनी चाहिए एवम हमें पेड़ लगाने कोशिश करे।

विश्व वन दिवस पहली बार वर्ष 1971 में यूरोपीय कृषि परिसंघ की 23वीं महासभा द्वारा मनाया गया था। भारत में इस दिवस की शुरूआत 1950 में हुई थी। इस दिवस की शुरूआत भारत के तत्कालीन गृहमंत्री कुलपति कन्हैयालाल माणिकलाल मुंशी (VC Kanhaiyalal Maniklal Munshi) ने की थी।

प्रमुख चीजें इस प्रकार हैं:

  1. लकड़ी एक प्रमुख नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत है- सौर, पनबिजली या पवन ऊर्जा की तुलना में लकड़ी अधिक ऊर्जा प्रदान करता है, यह वर्तमान वैश्विक अक्षय ऊर्जा आपूर्ति का लगभग 45 प्रतिशत हिस्सा है.
  2. लकड़ी ऊर्जा आर्थिक विकास को शक्ति देता है- लगभग 900 मिलियन लोग, ज्यादातर विकासशील देशों में, लकड़ी-ऊर्जा क्षेत्र में पूर्णतः-या अंशकालिक आधार पर लगे हुए हैं. लकड़ी ऊर्जा क्षेत्रो के आधुनिकी करण से ग्रामीण अर्थ-व्यवस्थाओं (Economics) को पुनर्जीवित करने और उद्यम विकास को प्रोत्साहित किया जा सकता है.
  3. लकड़ी और पेड़ श्रेष्ठतम शहरी जीवन और कम ऊर्जा बिलों में योगदान करते हैं - शहरी इलाकों में रणनीतिक रूप से लगाये गए पेड़ हवाओं को 2 से 8 डिग्री सेल्सियस के बीच ठंडा कर सकता है.
  4.  लकड़ी ऊर्जा जलवायु परिवर्तन को कम करती है और टिकाऊ विकास को बढ़ावा देती है- वैश्विक स्तर पर, जंगल विश्व की वार्षिक प्राथमिक ऊर्जा खपत के लगभग 10 गुना ऊर्जा सामग्री रखते हैं.
Previous
Next Post »

ConversionConversion EmoticonEmoticon

Note: Only a member of this blog may post a comment.